Android Root Kya Hai – फायदे और नुकसान

आपने कहीं बार सुना होगा रूट के बारे में परंतु आपको मालूम नहीं है कि रूट क्या होता है तो मैं आज इसी पोस्ट में आपको रूट के बारे में पूरी जानकारी दूंगा के रूट क्या होता है(Root Kya hai), रूट कैसे काम करता है, आपको अपना मोबाइल रूट करना चाहिए कि नहीं करना चाहिए और रूट करने से कौन से नुकसान और फायदे होते हैं।

एंड्राइड रूट करने से आपके मोबाइल में बहुत सारे नुकसान होते हैं उसके साथ-साथ आपको रूट से बहुत सारे फायदे भी मिलते हैं दरअसल रूट एक ऐसी चीज है जो आपकी मोबाइल की सीमा (limitation) को हटा देती है जिससे आप मन मर्जी पड़े ऐसे अपने एंड्राइड मोबाइल को चला सकते हैं और उसकी performance बढ़ा सकते हैं।

Root kya hai

गूगल एक ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) है जो गूगल के द्वारा बनाया गया है इस ऑपरेटिंग सिस्टम में बहुत सारी सीमा होती है और वह इमिटेशन को दूर करने के लिए आपको अपना मोबाइल रूट करना जरूरी है।

रूट करने के बाद आपके मोबाइल को सुपर पावर मिल जाती है रूट करने के बाद अब आप अपने मोबाइल में आई एम आई नंबर बदल कर सकते हैं एंड्रॉएड आईडी बदल कर सकते हैं, आप कंपनी के एप्लीकेशन को हटा कर सकते हैं मोबाइल स्क्रीन रिकॉर्डिंग कर सकते हैं ऐसे बहुत सारे फीचर को आप एक्टिवेट कर सकते हैं।

Android Root Kya hai in Hindi

Online Paise kaise Kamaye ? 15-20 हजार घरे बैठे 2020

Instagram Account Delete कैसे करें और Disable कैसे करें

Google AdSense क्या है और उससे पैसे कैसे कमाए

GDP क्या है ? पूरी जानकारी हिंदी में।

Android Root के फायदे (Advantage)

1.Install Custom ROMs:

मोबाइल रूट करने के बाद आप उसमें TWRP रिकवरी इंस्टॉल करके कस्टम रोम्स इंस्टॉल कर सकते हैं जैसे कि आपका मोबाइल Vivo का है तो आप उस में Oppo कि ROMs यानी कि ऑपरेटिंग सिस्टम को चला सकते हैं।

2.Install Hacks:

हम किसी भी हैकिंग को समर्थन नहीं करते

एंड्राइड रुट करने के बाद आप उसमें कई सारे hacks install कर सकते हैं जैसे कि मोबाइल गेम के hacks एप्लीकेशन के hacks इंस्टॉल करके आप एप्लीकेशन के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं।

3.Uninstall Default Apps:

हर एंड्राइड मोबाइल में बहुत सारे Default एप्लीकेशन आते हैं जिसको आप अनइनस्टॉल नहीं कर सकते पर आप अपने मोबाइल को रूट करने के बाद उसे भी आने स्टॉल कर सकते हैं।

4.Customization Android:

आप आपने Device को एक नया look दे सकते है. इसके साथ साथ उसके icons, notification bar, color, font और ऐसे बहुत सारे बदलाव कर सकते है। इसके साथ-साथ आप अपने एंड्रॉयड डिवाइस का आईएमइआई नंबर एंड्राइड आईडी डिवाइस का नाम और मॉडल नंबर भी change कर सकते हैं।

5.Recover Data And Full Backup:

अगर आपका डाटा डिलीट हो गया है तो आप रूट के जरिए उसे वापस ला सकते हैं और अपने मोबाइल का फूल बैकअप ले सकते हैं टाइटेनियम बैकअप App या दूसरे एप्लीकेशन कि मदद से आप अपने मोबाइल का पूरा बैकअप ले सकते हैं।

Android Root के नुकसान (Disadvantage):

1.Damage Mobile:

अगर आप रूट करने का कोशिश कर रहे हैं और रूट ठीक से इंस्टॉल नहीं होता तो आपका मोबाइल खराब हो सकता है आपका मोबाइल Brick (dead) भी हो सकता है और उसे चालू करने के लिए आपको Service Center भेजना पड़ सकता है ।

2.Avoid Mobile Warranty:

Root करने के बाद आपके मोबाइल Warranty भी चली जाती है भले ही आपका मोबाइल की Warranty खत्म नहीं हुई है पर Root करने के बाद Service Center वाले आप की वारंटी को हटा देते हैं । वारंटी हटने के बाद आप मोबाइल को Unroot भी कर रहे देंगे तो आप की वारंटी नहीं रहेगी।

3.Privacy issue :

मोबाइल को रूट करने के बाद आपकी प्राइवेसी या डाटा लीक होने का खतरा बढ़ जाते हैं क्योंकि वायरस आपके जब मोबाइल पर अटैक करेंगे तो वह को मोबाइल एक्सेस की परमिशन मिल जाएगी। मेरा सुझाव यही है कि आप अपने primary मोबाइल को रूट ना करें।

4.Battery Backup Problem:

कहीं बार देखा गया है कि मोबाइल को रूट करने के बाद उसकी बैटरी खराब हो जाती है और बैटरी बैकअप भी कम हो जाता है।

5.Down Resale Value :

मोबाइल को रूट करने के बाद उसकी Resale Value कम हो जाती है क्योंकि रूट मोबाइल में प्राइवेसी डाटा लीक होने का प्रॉब्लम जाता है होता है इसलिए ज्यादातर लोग उसे खरीदते नहीं है इसके अलावा बैटरी भी डैमेज हो जाती है।

मेरा सुझाव :

अगर आपको आवश्यकता ना हो तो मोबाइल को रूट ना करें क्योंकि उससे कई सारे प्रॉब्लम आप को जेल ने पढ़ सकते हैं अगर उसके बावजूद भी आपको अपना मोबाइल रूट करना है तो आप दूसरा मोबाइल रूट करने का प्रयास करें प्राइवेट primary मोबाइल को कभी Root ना करें।

Conclusion:

मुझे उम्मीद है आप इस पोस्ट में समझ गए होंगे कि Root क्या होता है (What is Android Root in Hindi) फायदे और नुकसान होते हैं । रूट एक ऐसी प्रक्रिया है जो मोबाइल की सीमा को हटा देती है और उससे ज्यादा पावर देने का प्रयास करती हैं आप कुछ जरूरी है तो ही मोबाइल रूट करें हो वरना ना करें।
अगर आपको यह पोस्ट पसंद है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

Give a Comment